खबरें

डिजीटल बना मुंबई शहर, शहर में लगाए गए 500 वाईफाई होटस्पोट

वाईफाई

डिजीटल भारत के साथ जुड कर अब मुंबई शहर भारत का डिजीटल शहर बनने जा रहा है। क्यु की मुंबई शहर में हाल ही में 500 वाईफाई होटस्पोट शरू किए गए है जिसका कोई भी यूजर इस्तेमाल कर सकता है।

महाराष्ट्र सरकार की योजना है कि मुंबई को भारत का पहला वाई-फाई शहर बनाया जाएगा। इसके चलते पहले विभाग पर काम शुरू हो गया है। 9 जनवरी से अलग-अलग जगहों पर वाई-फाई हॉट स्पॉट की सुविधा शुरू कर दी गई है। इसकी जानकारी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस ने प्रोजेक्ट लॉन्चिंग के समय बताई थी।

देवेंद्र फडनवीस ने बताया कि 8 जनवरी तक 6 दिन का वाई-फाई का ट्रायल किया गया था। मुंबई में देश की सबसे बड़ी पब्लिक वाई-फाई सर्विस है और दुनिया में भी सबसे बड़ी वाई-फाई सर्विस में से एक है। देश को डिजिटल बनाने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने डिजीटल भारत को साथ दिया है।

‘1 मई 2017 तक वाई-फाई हॉट स्पॉट शुरू करने का वादा किया गया था। साथ ही कनेक्टिविटी और स्पीड को भी तेज किया जाएगा। जिससे मुंबई के लोगों को अच्छा अनुभव प्राप्त हो।  2-8 जनवरी तक ट्रायल के दौरान 23 हजार यूजर्स ने साइन अप किया और 2 टीबी से ज्यादा डेटा डाउनलोड किया।’

गौरतलब है कि साल 2016 के अगस्त महीने में सीएम देवेंद्र फडनवीस ने मुंबई में 1 मई 2017 से पहले 1200 वाई-फाई हॉट स्पॉट लगाने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि वाई-फाई की स्पीड 20 एमबीपीएस होगी और वाई-फाई गेटवे ऑफ इंडिया और गिरगांव चौपाटी जैसे टूरिस्ट प्लेस पर लगाए जाएंगे।

आगे कहा था कि वाई-फाई को स्लम इलाकों में भी लगाया जाएगा, क्योंकि वहां पर मोबाइल नेटवर्क की समस्या रहती है। इस स्कीम के मुताबिक, जब आप वाई-फाई का इस्तेमाल करना शुरू करेंगे तो पहले आधे या एक घंटे तक यह फ्री रहेगा। इसके बाद वाई-फाई का इस्तेमाल करने पर चार्ज देना होगा।

फडनवीस  ने यह बताया की डिजीटल भारत  के साथ जुड कर मुंबई का हर एक नागरीक भी डिजीटल बन सकें इसके लिए यह कदम उठाया गया है। इस कदम से मुंबई भी डिजीटल मुंबई के साथ जुड जाएगा।

 

Comments